Breaking News

हिसार में फायरिंग करके करोड़ों रुपए फिरौती मांगने के विरोध में 5 जुलाई को हिसार बंद व 1 जुलाई को धरना-प्रदर्शन किया जाएगा- बजरंग गर्ग

 

 

हरियाणा में बेरोजगारी अव्वल स्थान पर होने के कारण लगातार अपराध बढ़ रहे हैं- बजरंग गर्ग

चंडीगढ़ 1 जुलाई (संदीप सैनी) आज हरियाणा प्रदेश व्यापार मंडल के प्रांतीय अध्यक्ष व हरियाणा कान्फैड के पूर्व चेयरमैन बजरंग गर्ग ने व्यापारियों को संबोधित करते हुए कहा कि हिसार व हरियाणा में अपराधियों द्वारा लगातार फायरिंग करके फिरौती मांगने के विरोध में 5 जुलाई 2024 को हिसार बंद करने व 1 जुलाई को धरना-प्रदर्शन किया जाएगा। बजरंग गर्ग ने यह भी कहा कि शहर के व्यापारी व प्रमुख व्यक्तियों ने हिसार व हरियाणा में अपराध पर अंकुश लगाने में एक जुटता दिखाई है अगर सरकार ने अपराधियों का पक्का इलाज नहीं किया तो हिसार बंद के बाद आगामी व्यापार मंडल की राज्य स्तरीय मीटिंग बुलाकर हरियाणा बंद की काल की जाएगी। 5 जुलाई को हिसार बंद व 1 जुलाई को धरना-प्रदर्शन किया जाएगा। बजरंग गर्ग ने कहा कि बड़े अफसोस से कहना पड़ता है कि 7 दिन होने के बावजूद भी महिंद्रा शोरूम में फायरिंग करके 5 करोड रुपए की फिरौती मांगने वाले अपराधियों का ना पकड़ा जाना हरियाणा सरकार का विफलता का जीता जागता सबूत है। हरियाणा सरकार प्रदेश की जनता की जान माल की सुरक्षा करने में पूरी तरह से फैल सिद्ध हुई है जबकि गृह मंत्रालय हरियाणा के मुख्यमंत्री जी के पास है। हरियाणा का गृहमंत्री होने के नाते भी मुख्यमंत्री जी को इस समस्या का समाधान करना चाहिए। बजरंग गर्ग ने कहा कि हरियाणा में जगह-जगह गोलीकांड, फिरौती व मंथली लेने के मामले हो रहे हैं। सरकार अपराधियों को पकड़ने की बजाएं झूठी घोषणाएं व व्यादे करने में व्यस्त है। जिस राज्य में अपराध बढ़ जाता है वह राज्य कभी भी तरक्की नहीं कर सकता है। आज अपराध बढ़ाने के कारण हरियाणा से व्यापारी व उद्योगपति लगातार पलायन कर रहे हैं। जिसके कारण पहले से ज्यादा बेरोजगारी बढ़ रही है। हरियाणा में बेरोजगारी बढ़ाने के कारण हरियाणा प्रदेश अपराध के मामले में अव्वल स्थान पर है। सरकार को अपराधियों का पक्का इलाज करते हुए व्यापारी व आम जनता की जान माल की सुरक्षा का पुख्ता प्रबंध करना चाहिए।

About संदीप सैनी

Check Also

हे राजनीतिक प्राणियों अपने स्वार्थ हेतु मत बांटो हमे धर्म व जातियों में- ओ पी सिहाग 

हे राजनीतिक प्राणियों अपने स्वार्थ हेतू मत बांटो हमे धर्म व जातियों में- ओ पी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *