Breaking News

आखिर क्या है ये JPC ? इसे बनाने से क्यों कतरा रही सरकार:विपक्ष अडाणी की जांच JPC से कराने पर अड़ा !

हिंडनबर्ग की रिपोर्ट पर संसद में शुक्रवार को भी हुआ जबरदस्त हंगामा !

नेशनल डेस्क- गौतम अडाणी के जीवन में भूचाल लाने वाली हिंडनबर्ग की रिपोर्ट आजकल राष्ट्रीय चर्चा का विषय बनी हुई है। बता दें की इसी के चलते संसद में शुक्रवार को भी जमकर हंगामा हुआ। और विपक्ष अडाणी की जांच JPC से करवाने पर अड़ा हुआ है।

आखिर क्या है ये JPC

JPC यानी जॉइंट पार्लियामेंट्री कमेटी यानी सांसदों की मिली-जुली कमेटी। हमारे देश में घटित हुई किसी बड़ी घटना या बड़े घोटाले की जांच के लिए सांसदों की जो मिली जुली कमेटी बनाई जाती है.वो कमेटी फिर उस मामले की जांच में जुट जाती है। विपक्ष की मांग है की अडाणी विवाद की जांच JPC से करवाई जाए।

BITCOIN से जुड़ा हर लेटेस्ट अपडेट इस LINK पर पाएं….http://blognext.in

सरकार के हाथ में है फैसला

बता दें कि जॉइंट पार्लियामेंट्री कमेटी बनाने का फैसला सरकार के हाथ में होता है। क्योंकि संसद में सरकार का बहुमत होता है। इसलिए ये पूरी तरह से सरकार पर ही निर्भर करता है। माना ये जा रहा है कि सरकार कमेटी बनाने से गुरेज़ कर रही है। JPC की परंपरा भारत ने ब्रिटेन के संविधान से ली है।

आजाद भारत में अब तक 6 बार कमेटी बनी

लोकसभा की वेबसाइट के मुताबिक, देश में हुए बड़े घोटालों और वित्तीय अनियमितताओं की जांच के लिए आजादी के बाद अब तक 6 बार JPC बनाई जा चुकी है.और जॉइंट पार्लियामेंट्री कमेटी सरकार को गिराने का भी दम रखती है.इसलिए सरकार इसे बनाने से कतरा रही है।

हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें…https://www.youtube.com/@newsnext9968

About Bhanu Sharma

Check Also

Corruption Destroys the Identity of the Country

Corruption Destroys the Identity of the Country: कांग्रेस राज्य में भ्रष्टाचार देश की पहचान खत्म हो गई: मोदी

Corruption Destroys the Identity of the Country: राजीव गांधी ने यह भी कहा था कि …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *