Breaking News

30 साल की नौकरी में 55वीं बार ट्रांसफर:हरियाणा के IAS का ट्रांसफर पर छलका दर्द !

खेमका बोले- दबा न सको तो ईमानदार को कम काम देने की नई ट्रिक, किसके हित में?

हरियाणा डेस्क – हमेशा चर्चाओं में रहने वाले हरियाणा के IAS अधिकारी अशोक खेमका का 30 साल की नौकरी में 55वीं बार ट्रांसफर होने पर दर्द छलका है। उन्होंने अपने ट्रांसफर पर सवाल उठाए हैं। 1991 बैच के आईएएस अधिकारी खेमका को अब चौथी बार अभिलेखागार विभाग मिला है।इस विभाग में सिर्फ 22 कर्मचारी काम करते हैं। जहां दूसरे विभागों का एनुअल बजट हजारों करोड़ होता है वहीं अभिलेखागार विभाग का बजट सिर्फ 4 करोड़ रुपए है।

Read More Stories….जोशीमठ से राहत भरी दो खबरें: नए घरों में नहीं दरारें,पानी का रिसाव हुआ कम !

ट्रांसफर के बाद IAS अशोक खेमका ने किया ट्वीट

ट्रांसफर के बाद IAS अशोक खेमका ने अपने ट्वीट में लिखा- ‘एक बार फिर अभिलेखागार विभाग मिला है। एक सरकारी अधिकारी को एक सप्ताह में कम से कम 40 घंटे का काम सौंपा जाता है, लेकिन अब ईमानदार और अपने काम के प्रति अडिग लोगों से निपटने की एक नई ट्रिक सोची गई है, जिसमें सिविल सेवा बोर्ड के नियमों को नजरअंदाज करते हुए कम से कम काम सौंपा जाए। उन्होंने लिखा है कि स्वाभिमान को नष्ट करो और अपमान का ढेर लगाओ। यह किसके हित में है?’

Read More Stories….जम्मू-कश्मीर में गश्त के दौरान खाई में गिरने से गई तीन जवानों की जान !

नहीं बताया गया ट्रांसफर का कारण

राज्य सरकार ने 1991 बैच के IAS अधिकारी अशोक खेमका के अचानक तबादले का कोई कारण नहीं बताया है। खेमका का उनके 30 साल के सेवा करियर में 55वां ट्रांसफर है। ट्रांसफर के बाद खेमका ने अपना दर्द बयां किया है। उन्होंने ट्वीट कर लिखा है कि एक बार फिर अभिलेखागार मिला है।

अशोक खेमका पर खर्च हो रहे हर महीने 5 लाख

खेमका के रैंक के एक IAS अधिकारी की सरकारी खजाने पर प्रति माह कम से कम 5 लाख रुपये की लागत आती है। इसमें महंगाई भत्ता सहित 3.1 लाख रुपए का वेतन, 18,000 रुपए प्रति माह घर-चपरासी भत्ता, एक ड्राइवर वाली कार, रहने के लिए एक बड़ा सरकारी आवास और पूरे परिवार के लिए 100 प्रतिशत चिकित्सा कवर सहित अन्य पात्रताएं शामिल हैं।

चीफ सेक्रेटरी ने अच्छा टीम लीडर बताया

26 अक्टूबर 2021 से 31 मार्च 2022 की अवधि के लिए खेमका की नवीनतम प्रदर्शन मूल्यांकन रिपोर्ट में मुख्य सचिव संजीव कौशल ने 10 में से 9.8 अंक दिए हैं। उनकी रेटिंग तत्कालीन विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्री अनिल विज द्वारा 9.9 तक बढ़ा दी। बाद में इसे मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर द्वारा अनुमोदित किया गया। कौशल ने अपनी रिपोर्ट में खेमका को एक अच्छा टीम लीडर बताया है।

हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें……https://www.youtube.com/@newsnext9968

About Bhanu Sharma

Check Also

Demolish 5 Unsafe Towers of Society in Gurugram

Demolish 5 Unsafe Towers of Society in Gurugram: पांचों निश्चित टावर गिराने का मार्ग साफ, विनियमन का पालन करने की दी गई अध्यादेश

Demolish 5 Unsafe Towers of Society in Gurugram: चिंटेल्स पैराडिसो सोसायटी के संकटग्रस्त पांचों टावरों …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *