Breaking News

Pankaj Udhas Passes Away: भारतीय ग़ज़ल आइकन का निधन, पंकज उधास का 72 वर्ष की आयु में निधन

Pankaj Udhas Passes Away: प्रसिद्ध ग़ज़ल गायक पंकज उधास का 72 वर्ष की आयु में निधन हो गया, वे अपने पीछे दशकों तक दर्शकों को मंत्रमुग्ध करने वाली भावपूर्ण धुनों की विरासत छोड़ गए। उनकी टीम ने 26 फरवरी की सुबह मुंबई के ब्रीच कैंडी अस्पताल में उनके निधन की पुष्टि की। लंबी बीमारी से पीड़ित उधास पिछले कुछ दिनों से अस्वस्थ थे, जिससे उनका निधन हो गया।

26 फरवरी 2024 को पद्मश्री पंकज का निधन

उनकी बेटी, नायाब उधास ने एक भावुक बयान श्री करते हुए कहा, “बहुत भारी मन से, हम आपको लंबी बीमारी के कारण 26 फरवरी 2024 को पद्मश्री पंकज उधास के दुखद निधन के बारे में सूचित करते हुए दुखी हैं।

संगीत यात्रा शुरूवात Pankaj Udhas Passes Away

17 मई, 1951 को गुजरात में जन्मे पंकज उधास ने कम उम्र में अपनी संगीत यात्रा शुरू की और 1980 और 1990 के दशक में प्रसिद्धि हासिल की। अपनी संगीत उपलब्धियों के अलावा, उधास को उनके परोपकारी प्रयासों, सामाजिक कल्याण के लिए धर्मार्थ कार्यों और पहलों का सक्रिय रूप से समर्थन करने के लिए पहचाना गया।

‘नबील’ एल्बम जारी, बेस्ट-सेलर एल्बम

1989 में, उन्होंने ‘नबील’ एल्बम जारी किया, जो एक बेस्ट-सेलर एल्बम था, जिसने नेक कार्यों के प्रति उनकी प्रतिबद्धता को प्रदर्शित किया। एल्बम की पहली प्रति की नीलामी की गई, जिससे 1 लाख रुपये की अच्छी-खासी रकम प्राप्त हुई, जिसे कैंसर मरीजों की सहायता एसोसिएशन को दान कर दिया गया। इसके अतिरिक्त, ग़ज़ल वादक ने पेरेंट्स थैलेसीमिया यूनिट के लिए सक्रिय रूप से काम किया।

पंकज उधास ने कई एल्बम और एकल जारी

अपने शानदार करियर के दौरान, पंकज उधास ने कई एल्बम और एकल जारी किए, जिनमें से कई कालजयी क्लासिक बन गए हैं। उनके प्रभावशाली गीत, जिनमें ‘चिठ्ठी आई है’, ‘और आहिस्ता’ और ‘जीये तो जीयें कैसे’ शामिल हैं, पीढ़ियों तक गूंजते हैं।

सदाबहार धुनों और सार्थक गीतों से प्रेरित Pankaj Udhas Passes Away

संगीत की दुनिया में पंकज उधास के योगदान और उनके मानवीय प्रयासों ने भारतीय संस्कृति पर एक अमिट छाप छोड़ी है। उनके निधन के बाद भी, वह अपनी सदाबहार धुनों और सार्थक गीतों से दर्शकों को प्रेरित करते रहे हैं।

READ ALSO: Pradhan Mantri Suryoday Yojana: प्रधानमंत्री सूर्योदय योजना के लिए आवेदन करें कैसे, बचेगा बिजली बिल

READ ALSO: Randeep Hooda-Lin Laishram Marriage: शादी से पहले पहुंचे मणिपुर मंदिर रणदीप हुड्डा और लिन

About News Next

Check Also

PM Modi Spoke on ED's Action

PM Modi Spoke on ED’s Action: ई.डी की कार्रवाई पर बोले मोदी- मेरे फैसले किसी को डराने के लिए नहीं

PM Modi Spoke on ED’s Action: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि ई. डी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *