Breaking News

Randeep Hooda will Soon Enter Politics: एक्टर रणदीप हुड्डा जल्द राजनीति में करेंगे एंट्री, हरियाणा की इस सीट से लड़ सकते हैं चुनाव!

Randeep Hooda will Soon Enter Politics: चुनावी घोषणा से पहले ही भाजपा ने लोकसभा चुनाव की बिसात बिछानी शुरू कर दी है। प्रदेश की मानी जाने वाली सबसे हॉट सीट रोहतक के लिए प्रत्याशी घोषित करने को लेकर राजनीतिक गलियारों में माहौल गर्माया हुआ है। इसी कड़ी में सिनेमा के बड़े पर्दे पर ठेठ हरियाणवी में अपने अभिनय का लोहा मन वाने वाले अभिनेता रणदीप हुड्डा का नाम सुर्खियों में है। हालांकि अभी भाजपा से मौजूदा सांसद डॉ. अरविंद शर्मा हैं, लेकिन कांग्रेस से कड़े मुकाबले को देखते हुए उन्हें यहां के बजाय करनाल शिफ्ट कर इस सीट से रणदीप हुड्‌डा को भाजपा उतारने की तैयारी कर रही है।

दीपेंद्र हुड्‌डा को टक्कर दे सकते हैं रणदीप हुड्‌डा

बताया जा रहा है कि रणदीप हुडा हरियाणा के पूर्व सीएम भूपेन्द्र सिंह हुडा के बेटे और राज्यसभा सांसद दीपेंद्र हुडा को टक्कर दे सकते हैं। दीपेंद्र को कांग्रेस से टिकट मिलने की पूरी संभावना है। इसके लिए उन्होंने तैयारी शुरू कर दी है। रणदीप हुड्डा का जन्म 20 अगस्त 1976 को रोहतक के जसिया गांव में हुआ था। उनके पिता रणबीर हुडा एक मेडिकल सर्जन रहे हैं। उनकी मां आशा हुडा एक सामाजिक कार्यकर्ता थीं। इसके साथ ही वह बीजेपी की सक्रिय कार्यकर्ता भी रह चुकी हैं. रणदीप हुड्डा को अपने गांव से बहुत प्यार है, यही वजह है कि वह अक्सर यहां आते रहते हैं।

रणदीप हुड्‌डा की 2023 में हुई शादी Randeep Hooda will Soon Enter Politics

लोकसभा चुनाव को लेकर रणदीप हुड्‌डा के नाम की चर्चा इसलिए भी हो रही है, क्योंकि अभी वह फिल्मों में ज्यादा एक्टिव नहीं हैं। एक्ट्रेस लिन लैशराम के साथ वर्ष 2023 में शादी के बाद वह अपनी मां की सियासत को आगे लेकर आना चाहते हैं। इसके साथ ही हरियाणा के प्रति उनका प्रेम लगातार उनकी बातों और उनके कामों में भी दिखता रहता है। गांव जसिया के सरपंच ओम प्रकाश हुड्‌डा का कहना है कि रणदीप हुड्‌डा और उनका परिवार गांव में मिलनसार परिवार रहा है। यदि वह लोकसभा चुनाव लड़ते हैं तो यहां से उनको पूरा प्यार मिलेगा।

रोहतक से दीपेंद्र हुड्‌डा की मजबूत दावेदारी मानी जा रही 

दीपेंद्र हुड्‌डा की इस बार रोहतक से मजबूत दावेदारी मानी जा रही है। इसकी सबसे बड़ी वजह यह है कि 2019 में हुए लोकसभा चुनाव में मोदी लहर के बाद भी भाजपा के प्रत्याशी अरविंद शर्मा को उन्होंने यहां से कांटे की टक्कर दी थी। इस बार वह रोहतक को लेकर काफी सीरियस हैं, पिछले एक साले से वह यहां लगातार रैलियां और बैठकें कर रहे हैं। सबसे अहम बात यह है कि हाल ही में हुए सर्वे में भी भाजपा के कोटे की रोहतक सबसे कमजोर सीट मानी गई है। 2019 में दीपेंद्र हुड्‌डा लोकसभा चुनाव हार गए थे। उन्हें इस चुनाव में 5,66,342 वोट मिले थे। EVM से उन्हें 5,63,606 वोट और बैलट पेपर के 2736 वोट मिले थे। जबकि उनके प्रतिद्वंदी भाजपा के प्रत्याशी अरविंद शर्मा को 5,73,845 वोट मिले थे। EVM से उन्हें 5,66,242 और बैलट पेपर से 7603 वोट मिले थे

यहां फंस रहा है पेंच

रोहतक में बीजेपी के लिए सब कुछ आसान नहीं है। इसकी वजह यह है कि मौजूदा सांसद डॉ. अरविंद शर्मा करनाल की बजाय रोहतक से लोकसभा चुनाव लड़ना चाहते हैं। इसे लेकर वह कई बार सार्वजनिक कार्यक्रमों में भी अपनी इच्छा जाहिर कर चुके हैं। 3 फरवरी को अपने काम गिनाते हुए अरविंद शर्मा ने दीपेंद्र हुड्डा को चेतावनी दी थी कि अगर उनमें हिम्मत है तो राज्यसभा सांसद का पद छोड़कर मेरे खिलाफ चुनाव मैदान में आएं। इसके बाद जनता तय करेगी कि किसके पास कितनी ताकत है। ऐसे में कयास लगाए जा रहे हैं कि अरविंद शर्मा आसानी से रोहतक सीट नहीं छोड़ने वाले हैं। कौन कहां से लोकसभा प्रत्याशी होगा, इस पर फैसला बीजेपी आलाकमान को लेना है।

READ ALSO: Pradhan Mantri Suryoday Yojana: प्रधानमंत्री सूर्योदय योजना के लिए आवेदन करें कैसे, बचेगा बिजली बिल

READ ALSO: Randeep Hooda-Lin Laishram Marriage: शादी से पहले पहुंचे मणिपुर मंदिर रणदीप हुड्डा और लिन

About News Next

Check Also

PM Modi Spoke on ED's Action

PM Modi Spoke on ED’s Action: ई.डी की कार्रवाई पर बोले मोदी- मेरे फैसले किसी को डराने के लिए नहीं

PM Modi Spoke on ED’s Action: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि ई. डी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *