Breaking News

हरियाणा खेल मंत्री संदीप सिंह के खिलाफ खापों का हल्लाबोल !

महिला कोच द्वारा लगाए गए यौन शोषण के आरोपों से घिरे हैं हॉकी टीम के पूर्व कैप्टन !

हरियाणा डेस्क – भारतीय हॉकी टीम के पूर्व कैप्टन और हरियाणा के खेल मंत्री संदीप सिंह की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं। बता दें कि महिला कोच ने उनपर यौन शोषण के गंभीर आरोप लगाए हैं.इन सब के बाद संदीप सिंह विवादों के घेरे में नज़र आ रहे हैं। संदीप सिंह भले ही अपना खेल मंत्रालय छोड़ चुके है, लेकिन मंत्रीपद से इस्तीफे का दबाव अब भी उन पर बना हुआ है। उनके खिलाफ खापों ने खुलकर मोर्चा खोल दिया है। और अब संदीप सिंह खापों के निशाने पर आ चुके हैं.इसी सिलसिले में दिल्ली में कल सर्वखाप महापंचायत होगी। इस महपंचायत में हरियाणा के अलावा आसपास की काफी खापों के प्रतिनिधि व स्थानीय लोग शामिल होंगे। महापंचायत के जरिए सरकार पर संदीप सिंह के खिलाफ कार्रवाई का दबाव बनाया जाएगा।

Read More Stories ….. DELHI ACCIDENT : दर्दनाक सड़क हादसे से दहल उठा दिल्ली,जाँच में हुआ बड़ा खुलासा !

महिला कोच के आरोप पर इस्तीफे से कम कुछ मंजूर नहीं

महिला कोच ने संदीप सिंह पर यौन शोषण के आरोप लगाए हैं।और इस मामले में न्याय की मांग महिला कोच की तरफ से की जा रही है.बता दें कि अब खापों का समर्थन महिला कोच को मिल रहा है.और हरियाणा के मंत्री के खिलाफ खापों ने हल्ला बोल कर दिया है.बता दें कि दिल्ली के गांव झाड़ोदा में सर्व खाप महापंचायत बुलाई गई है.इस महापंचायत में संदीप सिंह पर कारवाई का दबाव खापों की और से बनाया जाएगा।

सरकार से नाखुश खाप

खाप पंचायतें और महिला कोच के परिवार वाले सरकार के रवैये से नाखुश हैं। महिला कोच के परिवार की ओर से ये कहा गया है कि सरकार जांच में ढील बरत रही है। परिवार का कहना है की उन्हें खापों पर पूरा विश्वास है। और खाप का जो भी निर्णय होगा वो उन्हें मंजूर होगा। बता दें कि 1 जनवरी को झज्जर में सरकार के खिलाफ ‘धनखड़ खाप-12’ की पंचायत आयोजित की गई थी। इसमें शनिवार तक मंत्री को बर्खास्त करने का अल्टीमेटम दिया था। गुरुवार को प्रस्तावित महापंचायत में भी इसी तर्ज पर सामाजिक दोषियों को सजा दिलाने के मुद्दे पर चर्चा होगी।

 

 

About Bhanu Sharma

Check Also

Farmers Protest

Farmers Protest: दिल्ली 1200 ट्रैक्टरों, बुलडोजरों के लिए तैयार, यातायात प्रभावित

Farmers Protest: सभी फसलों के लिए एमएसपी समर्थन की अपनी मांग पर दबाव बनाने के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *