Breaking News

Class Acidifying Practice Test in Haryana: इन चार सीटों पर फंसा पेंच निकालने में जुटी भाजपा, हरियाणा में क्लास अम्लीय करना अभ्यास परीक्षा

Class Acidifying Practice Test in Haryana: बीजेपी की कुल दस लोकसभा सीटें हरियाणा में से छह पर आकांक्षी उद्घोषणा कर दिए हैं। लेकिन चार सीट अभी भी ऐसी है जहां पर पार्टी को उम्मीदवार को उतारना है। उन चार सीटों में हिसार रोहतक कुरुक्षेत्र व सोनीपत लोकसभी सीट है। पार्टी आलाकमान के लिए यहां पर कुल समीकरण साधना बड़ी चुनौती है। कहा यह भी जा रहा है कि 22 मार्च के बाद बीजेपी अपने पत्ते खोल सकती है। हरियाणा में छह लोकसभा सीटों पर सबसे पहले अपने आकांक्षी घोषित करने वाली भाजपा चार लोकसभा सीटों के लिए प्रत्याशियों के नाम तय करने को लेकर बुरी तरह से असमंजस में है । बीजेपी इन चारों सीटों पर जाति समीकरणों का साम्य नहीं साध पा रही हैभाजपा की नजर कांग्रेस द्वारा बताए गए वाली टिकटों पर ठहरना है, ताकि उनके हिसाब-किताब से कुरुक्षेत्र, हिसार, रोहतक और सोनीपत लोकसभा सीटों पर बाकी बचे चारों उम्मीदवारों के नाम घोषित किए जा सकें। इन सीटों पर जाट, सिख, वैश्य और बीसी-ए उम्मीदवारों को टिकट देने को लेकर सामंजस्य बैठाना पार्टी के लिए बड़ी टकराव बना हुआ है।

ओबीसी उम्मीदवारों को चुनावी रण में उतारा

भाजपा ने अंबाला में बंतो कटारिया के रूप में एससी, करनाल में मनोहर लाल के रूप में पंजाबी, गुरुग्राम में राव इंद्रजीत के रूप में ओबीसी और फरीदाबाद में भी कृष्णपाल गुर्जर के रूप में ओबीसी उम्मीदवारों को चुनावी रण में उतारा है। भिवानी-महेंद्रगढ़ में धर्मबीर सिंह के रूप में जाट तथा सिरसा में डा. अशोक तंवर के रूप में एससी प्रत्याशियों पर भाजपा ने दाव खेला है।अब भाजपा सिख, बीसी-ए और वैश्य के साथ एक जाट को और टिकट देना चाहती है, कयोंकि टिकटों के आवंटन में सभी जातियों को बराबर प्रतिनिधित्व मिल सके। इस पर व्यापक मतदान चल रहा है। बीजेपी का प्रांतीय नेतृत्व फिर भी अपनी पसंद-नापसंद से केंद्रीय नेतृत्व को विदित करा चुका है, लेकिन फिर भी उम्मीदवारों की घोषणा पर पेंच फंसा हुआ है।

भाजपा की अगली मीटिंग Class Acidifying Practice Test in Haryana

भाजपा की केंद्रीय चुनाव समिति की अगली बैठक 22 मार्च को होने की अनुमान है, जिसमें हरियाणा की बाकी बची चारों सीटों पर संभव उम्मीदवारों के नाम पर जिक्र संभव है। रोहतक में मौजूदा सांसद डा. अरविंद शर्मा का टिकट करीब करीब तय ही है।

रणदीप हुड्डा से चुनाव लड़वाना चाहते थे लेकिन?

भाजपा यहां से फिल्म अभिनेता रणदीप हुड्डा को चुनाव लड़वाना चाहती थी, मगर रणदीप हुड्डा द्वारा चुनाव लड़ने से अस्वीकार कर दिए जाने की सूचना है। रणदीप हुड्डा नहीं चाहते थे कि वे कांग्रेस के राज्यसभा सदस्य दीपेंद्र सिंह हुड्डा के सामने चुनाव लड़ें, इसलिए हुड्डा परिवार से रणदीप हुड्डा के अच्छे नाता हैं। इसलिए उन्होंने लोकसभा चुनाव लड़ने से मना कर दिया है।

सोनीपत में ब्राह्मण और वैश्य और ब्दावेदारों में मुकाबला

सोनीपत में पूर्व नेता कविता जैन , पहलवान योगेश्वर दत्त और निर्माता मोहन बडौली के नाम शक्तिशाली दावेदारों में भी शामिल हैं। रोहतक में यदि बीजेपी ब्राह्मण को टिकट देती है तो सोनीपत में वैश्य के रूप में कविता जैन की सबसे बलवान दावेदारी बनती है।उनके पति राजीव जैन सीएम के मीडिया परामर्श रह चुके हैं। सबसे अधिक मजेदार सीट कुरुक्षेत्र की है। भाजपा यहां से पूर्व सांसद नवीन जिंदल अथवा उनकी धर्मपत्नी शालू जिंदल को चुनाव भिड़वाना चाहती थी, मगर जिंदल परिवार की ओर से चुनाव लड़ने से मना कर दिया गया है। ऐसे में कुरुक्षेत्र सीट पर वैश्य के साथ रोड और सिख की दावेदारी बढ़ गई है।

इन सीटों पर होगा बड़ा फैसला Class Acidifying Practice Test in Haryana

हिसार, रोहतक, कुरुक्षेत्र व सोनीपत सीट पर होना है बड़ा फैसला

हिसार में जाट और गैर जाट के फेर में टिकट का पेंच फंसा हुआ है। बही सांसद बृजेंद्र सिंह के पार्टी छोड़ने के बाद यहां विधानसभा उपाध्यक्ष रणबीर गंगवा , कैप्टन अभिमन्यु और पूर्व सांसद कुलदीप बिश्नोई के नाम मजबूत दावेदारों में शामिल हैं।पार्टी अभी इस फैसले पर नहीं पहुंची कि बीसी-ए, जाट और गैर जाट में किस पर दांव खेला जाए। यहां तीनों उम्मीदवार मजबूत हैं। सोनीपत में वैश्य और ब्राह्मण उम्मीदवार पर फैसला अभी नहीं हो पा रहा है। मौजूदा सांसद रमेश कौशिक का टिकट कटने की पूरी संभाव्यता है। लोकसभा चुनाव से पहले उनकी एक शिष्टाचार वाली वीडियो वायरल होने का नुकसान रमेश कौशिक को भरी नुकसान हो सकता है।

कुरुक्षेत्र में रोड और सिख दावेदारों में रस्साकसी

कुरुक्षेत्र में बीजेपी के इलाके के उपाध्यक्ष वेदपाल एडवोकेट टिकट के प्रबल दावेदारों में शामिल हैं। पार्टी ने यदि किसी सिख को टिकट देना चाहा तो यहां भाजपा नेता बख्शीस सिंह के नाम बलशाली से लिए जा रहे हैं।

READ ALSO: Pradhan Mantri Suryoday Yojana: प्रधानमंत्री सूर्योदय योजना के लिए आवेदन करें कैसे, बचेगा बिजली बिल

READ ALSO: Randeep Hooda-Lin Laishram Marriage: शादी से पहले पहुंचे मणिपुर मंदिर रणदीप हुड्डा और लिन

About News Next

Check Also

Gurpreet Singh-Parampal Kaur joins BJP

Gurpreet Singh-Parampal Kaur joins BJP: पंजाब में अकाली दल को बड़ा झटका, सिकन्दर सिंह मलूका के बेटे और IAS बहू बीजेपी में शामिल

Gurpreet Singh-Parampal Kaur joins BJP: शिरोमणि अकाली दल के वरिष्ठ नेता और पूर्व कैबिनेट मंत्री …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *