Breaking News

Himachal Political News: मंडी में कांग्रेस अभी तक कैंडिडेट नहीं कर पाई है घोषित, BJP पब्लिसिटी अभियान में काफी आगे बढ़ी

Himachal Political News: मंडी में कैंडिडेट घोषित न होने के कारण कांग्रेस कार्यकर्ताओं में भी निराशा की स्थिति बनी है। हालात यह हैं कि पहले जहां सांसद प्रतिभा सिंह का नाम संसदीय बैठक में आया वहीं अब मंत्री विक्रमादित्य का नाम आने पर कार्यकर्ता हैरान है। हालांकि वह विक्रमादित्य सिंह को मजबूत उम्मीदवार भी बता रहे हैं लेकिन प्रचार के मामले में दूरी कहीं न कहीं घटक रही है।

सरकार पर हमले Himachal Political News

लोकसभा चुनाव की सबसे हॉट सीट मंडी में कांग्रेस के नेताओं व कार्यकर्ताओं को अभी तक पशोपेश में ही हैं। कंगना रनौत के BJP कैंडिडेट बनने के बाद BJP जहां छह विधानसभा क्षेत्रों में उनका दौरा करवा चुकी है। उनकी गैर मौजूदगी में भी विरोधी नेता जयराम ठाकुर भी मंडी के दौरों पर हैं और सरकार पर हमले कर माहौल को पूरी तरह से गर्मा रखा है। दूसरी ओर कांग्रेस नेता संसदीय बैठक के बाद नहीं दिखे।

कार्यकर्ताओं में भी निराशा

कैंडिडेट घोषित न होने के कारण कांग्रेस कार्यकर्ताओं में भी निराशा की स्थिति बनी है।हालात यह हैं कि पहले जहां सांसद प्रतिभा सिंह का नाम संसदीय बैठक में आया वहीं अब मंत्री विक्रमादित्य का नाम आने पर कार्यकर्ता हैरान है। हालांकि वह विक्रमादित्य सिंह को मजबूत उम्मीदवार भी बता रहे हैं लेकिन पब्लिसिटी के मामले में दूरी कहीं न कहीं घटक रही है। दूसरी और BJP कंगना रनौत की गैरमौजूदगी में भी अपने पब्लिसिटी अभियान को तेज रखे हुए हैं।

कैंडिडेट की घोषणा में देरी

शनिवार को जहां जिला भर में बाइक रैली हुई वहीं रविवार को नेता प्रतिद्वंदी ने बल्ह में अनुसूचित जाति मोर्चा के कार्यक्रम में साझेदारी की। कंगना रनौत की ही बात करें तो वह मंडी,द्रंग,करसोग,बल्ह,सरकाघाट का दौरा कर चुकी हैं। अन्य विधायक भी अपने-अपने हलको में नुक्कड़ सभाएं करने में जुटे हैं। ऐसे में कांग्रेस की ओर से की जा रही कैंडिडेट की घोषणा में देरी उनको प्रचार अभियान में BJP से कहीं पीछे छोड़ रही है।हैरत तो इस बात की है कि कांग्रेस नेता भी अपने-अपने हलको में बैठकें करते कम ही दिख रहे हैं।

आपसी विवाद के चलते थप्पड़ मार दिया-AAP Himachal Political News

रविवार को AAP के कार्यकर्ताओं ने उनके नेता दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की गिरफ्तारी के विरोध में सेरी मंच पर धरना दिया। इस दौरान धरने में शामिल एक कार्यकर्ता को किसी व्यक्ति ने आपसी विवाद के चलते थप्पड़ मार दिया।यह देख पार्टी कार्यकर्ता प्रधान हो गए। हालांकि दोनों के बीच आपसी विवाद था लेकिन मामला बढ़ता देख वह वहां से चला गया।

READ ALSO: Pradhan Mantri Suryoday Yojana: प्रधानमंत्री सूर्योदय योजना के लिए आवेदन करें कैसे, बचेगा बिजली बिल

READ ALSO: Randeep Hooda-Lin Laishram Marriage: शादी से पहले पहुंचे मणिपुर मंदिर रणदीप हुड्डा और लिन

About News Next

Check Also

जनसंख्या नियंत्रण के साथ-साथ जनसंख्या प्रबंधन जरूरी है: सतीश मेहरा

जनसंख्या नियंत्रण के साथ-साथ जनसंख्या प्रबंधन जरूरी है: सतीश मेहरा आज भारत विश्व का सबसे …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *