Breaking News

Notice to SAD from District Election Officer: जिला के चुनाव अफसर की तरफ से SAD को नोटिस, पार्टी ने उत्तर में कहा- शरारती अवयव ने लगाए झंडे

Notice to SAD from District Election Officer: लुधियाना में जनपद चुनाव अधिकारी ने हुतात्मा को नोटिस जारी किया है। वहीं पार्टी ने जवाब देते हुए कहा है कि नटखट तत्वों ने झंडे लगाए हैं। अब पार्टी को उस शरारती तत्वों को जांचने के लिए कहा गया है जिसने यह झंडे लगाए थे क्योंकि उसके विरुद्ध जिला मतदान आयोग की तरफ से कसूरवार मामला दर्ज करवाया जाना है।सिटी के नगर निगम कर्तव्य के समक्ष मुख्य बाजार में शिरोमणि अकाली दल बादल की झंडियां किसी शरारती अनसर ने लगाई थीं। जिला चुनाव अधिकारी की तरफ से दिए गए नोटिस में पार्टी ने यह जवाब दिया है। अब पार्टी को उस शरारती तत्व को ढूंढ़ने के लिए कहा गया है, जिसने यह झंडे लगाए थे, क्योंकि उसके खिलाफ जिला चुनाव आयोग की तरफ से आपराधिक मामला दर्ज करवाया जाना है।

सुखबीर बादल ने निकाली पंजाब बचाओ यात्रा Notice to SAD from District Election Officer

शिरोमणि अकाली दल बादल के मुखिया नेता सुखबीर सिंह बादल की तरफ से पूरे राज्य में पंजाब बचाओ यात्रा निकाली जा रही है। इसके लिए उनकी तरफ से शहर के अतिरिक्त क्षेत्रों में सुखबीर बादल की तस्वीर वाले प्रभावशाली और झंडे लगाए गए थे। यही नहीं, नगर निगम कार्यालय के बाहर भी यही दृश्य देखने को मिला था। इस यात्रा के दौरान सरकारी संपत्ति पर पार्टी के झंडे, बैनर और फ्लेक्स लगाकर आचार संहिता का अतिचार करने की खबर को 22 मार्च के भिन्नता में प्रमुखता से ज्योति किया था।जिला चुनाव अधिकारी के ध्यान में जब यह मामला लाया गया तो उनकी तरफ से इस पर कार्यवाही करते हुए पार्टी को नोटिस जारी किया गया। इसका जवाब पार्टी को चौबीस घंटे में देना था। इस पर उत्तर देते हुए शिरोमणि अकाली दल बादल के प्रतिनिधि ने कहा कि उनकी तरफ से यात्रा निकालने के लिए अज्ञा ली गई थी, मगर उन्हें नहीं पता है कि यह झंडियां किसने लगाई हैं। हो सकता है कि किसी ने यह मजाक किया हो। इस पर प्रशासन की तरफ से उन्हें उस शरारती व्यक्ति को खोजने के लिए कहा गया है।

खबर विज्ञापित प्रकट होने के बाद मकानों से उतरने लगे बोर्ड

आचार संहिता एप्रोपोस होने के फिर भी 48 घंटे के बीच पार्टियों के सरकारी या निजी इमारतों पर लगे बैनर और पोस्टर नहीं उतारे जाने का मामले को भी 22 मार्च के अंक में प्रकाशित किया था। यह बात उठने के बाद अब जिला चुनाव अधिकारी कुलवंत सिंह के कहने पर सभी पार्टियों के सरकारी या निजी इमारतों पर लगे बैनर-पोस्टर उतरने शुरू कर दिए हैं। नगर निगम के अतिरिक्त बाकी विभाग के बड़े अफसर शहर के कई जगहों पर इसका पालन करते हुए देखे भी गए हैं और शहर में लगे बोर्डों को हटाया भी जा रहा है।

चुनावी से पहला नोटिस? Notice to SAD from District Election Officer

लोकसभा चुनाव का घोषणा हुए लग-भग पांच दिन हो चुके हैं। जिला प्रशासन की और से इस पर काम भी करना शुरू हो गया है। लेकिन पांच दिन में यह पहला मामला है किसी चुनाव आचार संहिता के उल्लंघन करने पर किसी पार्टी को नोटिस जारी हुआ हो और 24 घंटे के भीतर उसका उत्तर भी उनके पास आ गया हो। अभितक पार्टी को उस शरारती तत्व को ढूंढ़ने के लिए कहा गया है जिसने यह झंडे व बैनर लगाए थे।

READ ALSO: Pradhan Mantri Suryoday Yojana: प्रधानमंत्री सूर्योदय योजना के लिए आवेदन करें कैसे, बचेगा बिजली बिल

READ ALSO: Randeep Hooda-Lin Laishram Marriage: शादी से पहले पहुंचे मणिपुर मंदिर रणदीप हुड्डा और लिन

About News Next

Check Also

SAD and Congress are in dilemma?

SAD and Congress are in dilemma?: पंजाब में दूसरे दलों के उम्मीदवारों का इंतजार, आखिर किस दुविधा में फंसी SAD और कांग्रेस?

SAD and Congress are in dilemma?: पंजाब में एक जून को Punjab Lok Sabha Election …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *